Ohh… Oo…

Main baarish ka mausam hoon
Tujhe ek din bhaunga
Ho do din deke khushiyan
Hashar tak le aaunga

Main baarish ka mausam hoon
Mera aitbaar na karna
Kuch bhi ho jaaye yaara
Mujhe tu pyaar na karna

Ho akhiyan hongi teri
Phir paani ka jharna
Kuch bhi ho jaaye yaara
Mujhe tu pyar na karna..

Aa… wo…
Aa… wo…

Tumne sudhara tha
Tumne bigada hai
Tumne kiya jo kiya
Hum to kabhi na the yoon bewafa
Par tune bana diya

Tumne sudhara tha
Tumne bigada hai
Tumne kiya jo kiya
Hum to kabhi na the yoon bewafa
Par tune bana diya

Ho Jaani kolon door reh, tainu samjhawan
Mera ki pata, main kal mar jaawan

Ho Jaani chhod chuka hai
Ab to maut se darna
Kuch bhi ho jaaye yaara
Mujhe tu pyar na karna

Ho akhiyaan hongi teri
Phir pani ka jharna
Kuch bhi ho jaaye yaara
Mujhe tu pyar na karna

Main itna badal chuka hoon sanam
Tujhse judaaiyan kar ke
Ke ab maza aane laga hai mujhe
Bewafaiyan kar ke

Main itna badal chuka hoon sanam
Tujhse judaaiyan kar ke
Ke ab maza aane laga hai mujhe
Bewafaiyan kar ke

Soch tere baare junoon mil jata hai
Chhod kisi ko sukoon mil jata hai

Ho pata nahi kab kiski
Hai baahon mein marna
Kuch bhi ho jaaye yaara
Mujhe tu pyar na karna

Ho akhiyaan hongi teri
Phir paani ka jharna
Kuch bhi ho jaaye yaara
Mujhe tu pyar na karna

Ohh… Oo…

Kuch Bhi Ho Jaye Lyrics in Hindi

ओह… ओ…

मैं बारिश का मौसम हूँ
तुझे एक दिन भाउंगा
हो दो दिन देके खुशियां
हश्र तक ले आऊंगा

मैं बारिश का मौसम हूँ
मेरा ऐतबार ना करना
कुछ भी हो जाये यारा
मुझे तू प्यार ना करना

हो आंखियां होंगी तेरी
फिर पानी का झरना
कुछ भी हो जाये यारा
मुझे तू प्यार ना करना

आ.. ओह…
आ.. ओह…

तुमने सुधारा था तुमने बिगड़ा है
तुम ने किया जो किया
हिन्दी ट्रैक्स डॉट इन
हम तो कभी ना थे यूँ बेवफा
पर तूने बना दिया

तुमने सुधारा था तुमने बिगड़ा है
तुम ने किया जो किया
हम तो कभी ना थे यूँ बेवफा
पर तूने बना दिया

हो जानी कोलो दूर रेह, तैनू समझावां
मेरा की पता, मैं कल मरजावां

हो जानी छोड़ चुका है
अब तो मौत से डरना
कुछ भी हो जाये यारा
मुझे तू प्यार ना करना

हो आंखियां होंगी तेरी
फिर पानी का झरना
कुछ भी हो जाये यारा
मुझे तू प्यार ना करना

मैं इतना बदल चुका हूं सनम
तुझसे जुदाइयां करके
के अब मजा आने लगा है मुझे
बेवफ़ाइयाँ करके

मैं इतना बदल चुका हूं सनम
तुझसे जुदाइयां करके
के अब मज़ा आने लगा है मुझे
बेवफ़ाइयाँ करके

सोच तेरे बारे जुनून मिल जाता है
छोड़ किसी को सुकून मिल जाता है

हो पता नही कब किसकी
है बाहों में मरना
कुछ भी हो जाये यारा
मुझे तू प्यार ना करना

हो आंखियां होंगी तेरी
फिर पानी का झरना
कुछ भी हो जाये यारा
मुझे तू प्यार ना करना

ओह… ओ…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here